अरुणाचल प्रदेश बना भारत का पहला बीजेपी का पूर्ण बहुमत वाला राज्य ! बड़ा उलटफेर !!

0
6864

पीपीए के पास 43 विधायक थे, अब इसके बाद केवल 10 विधायक ही रह गए हैं। भाजपा के पास पहले से ही 12 विधायक थे और दो स्वतंत्र विधायक सपोर्ट कर रहे हैं। इस तरह अब भाजपा के कुल विधायकों की संख्या 47 हो गई। कांग्रेस के तीन में से दो विधायक जल्द ही भाजपा में शामिल होने वाले हैं, ऐसे में इसके विधायकों की संख्या 49 हो जाएगी। अरुणाचल प्रदेश की विधानसभा में 60 सीटें हैं।  खांडू ने कहा, ‘हम लोग भाजपा ज्वाइन करने वाले थे। इसे रोकने के लिए 29 दिसंबर को पीपीए नेतृत्व ने कार्रवाई की।’ साथ ही उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस की तरह पीपीए में विधायकों की कोई इज्जत नहीं थी। उन्होंने कहा, ‘जिस तरीके से पीपीए में विधायकों के साथ पेश आया जाता था, वह अलोकतांत्रिक है। उन्होंने बिना नोटिस जारी किए और सफाई मांगे बगैर नेताओं को निलंबित कर दिया गया। यह बिल्कुल अवैध है, यह कांग्रेस की तरह ही किया गया।’ साथ ही उन्होंने कहा कि राज्य के लोग नरेंद्र मोदी की तरह स्थिर सरकार चाहते थे। बता दें, पेमा खांडू ने इस साल जुलाई में ही राज्य के मुख्यमंत्री बने थे। खांडू ने सितंबर महीने 42 विधायकों के साथ कांग्रेस छोड़कर पीपीए ज्वाइन कर ली थी।

2 of 2

loading...
SHARE